samacharvideo: देश में चारों तरफ चुनाव का माहौल है। देश के पाँच राज्यों में चुनाव हो रहे है जिसमे सभी राज्यों में मतदान हो गए है, साथ ही 11 मार्च को नतीजे भी आ रहे है। इन सब के बीच राजनीति गलियारे में और जनता के बीच एक बात ज्यादा तूल ले रही है, और वह यह है कि उत्तरप्रदेश का नया मुख्यमंत्री कौन होगा। क्या अखिलेश यादव फिर से कुर्सी पर बैठ पाएंगे या भाजपा अपना सिक्का जमाने में कामयाब हो पाएगी या फिर मायावती को फिर मौका मिलेगा।

इन सब सवालों के बीच एक बात साफ़ होती नजर आ रही है। जैसा की सभी एग्जिट पोल दावा कर रहे है, बीजेपी को उत्तरप्रदेश में बहुमत मिल सकता है। इसी हिसाब से मुख्यमंत्री अबकी बार भाजपा का ही बन सकता है। इसके बावजूद यदि भाजपा में मुख्यमंत्री उम्मीदवारों पर नजर डाले तो एक चेहरा सामने नही आता है, 4, 5 चेहरे इस कतार में खड़े नजर आते है। 

इस कतार में राजनाथ सिंह, उमा भारती और योगी आदित्यनाथ के साथ अमित शाह , केशव प्रसाद मौर्य और श्रीकांत शर्मा खड़े है। बात मजबूत दावेदार की करे तो इन सबमे सभी अपनी अपनी कह पर मजबूती से खड़े है, खैर एक बात तो तय है, इन लोगों में से ही कोई मुख्यमंत्री बन सकता है।

आपको बता दे कि, 11 मार्च को पांचों राज्यों के चुनावी नतीजे आ रहे है। जिसमे सबसे अहम उत्तरप्रदेश के नतीजों को माना जा रहा है। यहाँ पर हर दल ने अपनी पूरी ताकत झोंकने के साथ साथ अपनी आन बाण भी लगा दी है। वहीँ कुछ दल इस बार यूपी चुनाव में अच्छा प्रदर्शन नही कर पाते है तो उनके राजनीतिक जीवन पर भी खतरा हो सकता है।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *