samacharvideo: कांग्रेस के सबसे वरिष्ठ नेताओं में से एक एनडी तिवारी मैं आज कांग्रेस का दामन छोड़ बीजेपी का हाथ थाम लिया है एनडी तिवारी अपने बेटे रोहित शेखर को राजनीति में एक सुरक्षित ओहदा दिलाने के लिए भाजपा की ओर हाथ बढ़ाया है। 

गौरतलब है कि उत्तराखंड में फरवरी में चुनाव हैं। उत्तराखंड में मुकाबला कांग्रेस और बीजेपी के बीच ही है। इस स्थिति में कांग्रेस का साथ उसके ही सबसे पुराने नेताओं द्वारा छोड़ना पार्टी पर सवालिया निशान खड़े करता है।

एन डी तिवारी आज दिल्ली में बीजेपी प्रमुख अमित शाह से मिलने उनके आवास पहुंचे। तिवारी पार्टी में लंबे समय से अपनी अनदेखी से नाराज हैं और अपने बेटे को विधानसभा चुनाव में टिकट भी दिलवाना चाहते हैं। इसलिए ND तिवारी ने बेटे के साथ भाजपा का दामन थाम लिया है।
आपको बता दे कि, 91 वर्ष के एनडी तिवारी तीन बार अविभाजित उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके हैं. 2002 में उत्तराखंड राज्य बनने के बाद वह 2002 से 2007 तक इस राज्य के भी सीएम रहे. साल 1986–1987 में, वह तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी की कैबिनेट में विदेश मंत्री के तौर पर कार्यरत रहे. साल 2007 से 2009 तक आंध्र प्रदेश के राज्यपाल पद पर थे। 2009 में एक सेक्स स्कैंडल में नाम आने पर उन्हें पद से इस्तीफा देना पड़ा।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *