samacharvideo:  तो क्या आपका भी कोई क्रश है ? यदि होगा तो बस ये स्टोरी आपकी ही है। hmm, आप सोच रहे होंगे कैसे। तो आज हम आपको आपके दिल की हालत बताने वाले है, जो अक्सर उस वक़्त हो जाय करती है जब आपका क्रश आपके सामने होता है।

 

इसकी शुरुआत हम मसान फिल्म के एक गाने से शुरू करेंगे। और हां, आपकी कहानी भी इसी गाने के शुरूआती बोल के इर्द गिर्द घूमती नजर आएगी। ‘तू किसी रेल सी गुजरती है, मैं किसी पुल सा थरथराता हूँ।’ तो जब आपका क्रश आपके सामने आता है, आपकी धड़कन तेज़ हो जाती है। और हो सकता है, आप के पैर भी डगमगाने लग जाए। और आप सोचते है, काश मैं अपने दिल की बात कह पाता, अपने दिल का हाल बयां कर पाता। 

जब रात के 2 बजे मेरी नींद खुल जाया करती है, तो मै वही फेसबुक से डाउनलोड की हुयी तुम्हारी फोटो देखा करता हु, और सोचता हूं, काश मेरा दिल और तेरा दिल एक हो जाए। मैं इसके लिए जमाने से लड़ जाऊ, तेरी ख़ुशी के लिए सब कुछ कर जाऊ। पर बस, इन सबसे पहले तेरा इंतज़ार है, मेरी जिंदगी में आने का वो तेरा… इंतज़ार। तू सामने जब होती है तो तुझे देखने में तक मुझे कंपकंपी छूट जाती है। और सपनों में तो मैं तो तुझे पाने का ख्वाब तक सजा बैठा हूँ।
तू जब अपने घर से निकलती है तो मेरा दिल भी मेरी धड़कन को तेज़ करते हुए बाहर निकल आता है। तेरी एक झलक पाने के लिए मानों कई महीनों से तड़प रहा हो। पर एक डर भी होता, कहीं तू देख न ले। पर फिर भी मैं बाज नही आता, बस तुझे चुपके चुपके देखने का एक मौका तक नही छोड़ पाता हूँ।

आखिर जो मैं हर रोज निर्णय लेता हूं, की बस अब कल मैं अपने दिल की बात कह ही दूँगा, पर जब सामने आता हूं तो जनाब हालत पतली हो जाती है। और वो एक डर तुझे न पाने का मुझे अंदर ही अंदर खाये जाता है। खैर, तय कर लिया की जल्द ही मेरे दिल की बात तुझ तक पहुच जायेगी। पर क्या इस बार भी मैं हमेशा की तरह डर तो नही जाऊँगा….??
So guys, ये थी आपके दिल की हालत ! तो हम कहते है, आज हो ही जाए, दिल और दिल की तकरार, जाइये और बस… बोल आइये। एक बार अपनी पूरी ताकत लगा दीजिये, और उसके सामने खड़े हो जाइये। और हां मियाँ, बोल न पाओ तो आँख बंद कर लेना, पर आज बोल ही देना… क्योकि, ‘प्यार किया तो डरना क्या, छुप छुप आहे भरना क्या!’

#samacharvideo

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *