Ludo Supreme [CPR] IN

samacharvideo:. उत्तरप्रदेश में चुनावी गहमा गहमी जोरों पर है। यूपी चुनाव के पांच चरण संपन्न हो गए है तो वहीँ दो चरण बाकी है। इन्ही दो चरणों में सभी दल अपनी पूरी ताकत फूंक देने वाले है। इसी के साथ राजनीतिक गलियारे में बयानबाजी का दौर भी तेज़ हो गया है।

यह भी पढ़े: B’Day Special: जब पहली बार 7 दिनों के लिए मुख्यमंत्री बने थे ‘नितीश कुमार’, जाने उनसे जुड़ी ख़ास बाते !

यह भी पढ़े: साक्षी महाराज ने मुस्लिमों पर दिया ऐसा विवादित बयान, जिससे मुश्किल में पड़ जाएगी भाजपा !
उत्तरप्रदेश में सपा-कांग्रेस गठबंधन के लिए रणनीति बनाने वाले प्रशांत किशोर ने यूपी चुनाव जितने के लिए नयी रणनीति तैयार की है, जिससे आने वाले दो चरणों के चुनाव में गठबंधन को भारी बहुमत मिल सकता है। वहीँ विपक्ष इस रणनीति से सदमे में आ सकता है।

दरअसल, छटवें और सातवें चरण के लिए प्रशांत किशोर के कार्यकर्त्ता घर-घर जाकर पार्टी के लिए समर्थन जुटा रहे हैं। हर घर में एक पत्र के जरिए अखिलेश का संदेश दिया जा रहा है। अभियान के अंतर्गत प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में करीब 100 स्वयंसेवी घर-घर जा रहे हैं और लोगों से मिलकर ‘प्रगति के 10 कदम’ लिखा एक बड़ा कैलेंडर और एक पॉकेट कैलेंडर बांट रहे हैं। इन कैलेंडरों में समाजवादी पार्टी व कांग्रेस गठबंधन की 10 प्रमुख प्राथमिकताएं लिखी हुई हैं। 

संदेश में कहा गया है कि पिछले पांच साल में यूपी की तरक्की के लिए कई काम किए गए हैं। पिछले पांच साल में जो नींव रखी गई है, उस पर बड़ी इमारत खड़ी करनी है। इसके लिए जरूरी है कि विकास की रफ्तार बनी रहे। राज्य की खुशहाली के लिए अभी लंबा रास्ता तय करना है। ऐसे और भी सन्देश है जिसमे अखिलेश सरकार के कामो का जिक्र किया गया है।

अब देखना ये होगा की प्रशांत किशोर की यह रणनीति कितनी कारगर साबित होती है। इसका पता तो 11 मार्च को आने वाले चुनावी नतीजे से ही पता लगेगा !

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *