samacharvideo: पतंजलि आयुर्वेद के कर्ता-धर्ता और योग गुरु बाबा रामदेव को भाजपा और संघ के करीब माना जाता है। वे संघ और BJP के हर मुद्दे का समर्थन करते है साथ ही भाजपा के दिशानिर्देशों में सहभागिता भी रखते है। बाबा रामदेव आधिकारिक तौर पर किसी पार्टी का हिस्सा नही है पर उन्हें भाजपा का कट्टर समर्थक माना जाता है। पर इस बार बाबा रामदेव ने भाजपा से किनारा करने के संकेत दिए है।

बाबा रामदेव ने यह संकेत उत्तराखंड में चल रहे चुनावी मतदान के दौरान दिए । बाबा रामदेव ने कहा कि, इस बार बड़े बड़े सुरमा निपट जाएंगे। वहीँ रामदेव से पूछा गया कि क्या वे इस बार भाजपा के साथ है तो रामदेव बाबा ने कहा कि, वे चुनाव में निष्पक्ष है। निष्पक्ष रहने की बात पर उन्होंने यह भी कहा कि , देश की जनता काफी विवेकशील है। देश की जनता ही चायवाले को प्रधानमंत्री और पहलवान को मुख्यमंत्री बना देती है। उन्होंने यह भी कहा कि, इस बार के विधानसभा चुनाव से उत्तराखंड में भूचाल आ सकता है।

ग़ौरतलब है कि, 2014 के लोकसभा चुनाव में बाबा रामदेव ने भारतीय जनता पार्टी को खुलकर समर्थन किया था। वहीँ कालेधन, नोटबंदी और भ्रष्टाचार के मामले पर वे केंद्र सरकार और मोदी के साथ साथ खड़े थे।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *