सोने की चिड़िया कहे जाने वाले भारत देश को एक रहस्यमय तँत्र मंत्र वाला देश भी माना जाता है कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक भारत देश में कई रहस्य दफन है और  उन रहस्य को लेकर विज्ञान के पास कोई जवाब नहीं है  भारत में आज भी कई ऐसी जगह है जो अपने दामन में कई रहस्यों को समेटे हुए हैं । इन सब रहस्य से यह कहा जा सकता है कि आज से अरबों साल पहले के लोग हमसे ज्यादा    विज्ञान जानते थे और उनकी तकनीक आज की तकनीक से आगे थी।

1-आंध्रप्रदेश के कन्नूर मे  ननदी    का बढ़ता आकार वैसे तो भारत में बहुत सारे मंदिर है  जहां पर भगवान शिव के कई करिश्मे देखने को मिलते हैं लेकिन आंध्रप्रदेश के कन्नूर में स्थित यह मंदिर मैं भगवान शिव के पास स्थित  नंदी का आकार बढ़ता जा रहा है वहां रहने वाले लोग कहते हैं कि पहले मंदिर में स्थित नंदी की परिक्रमा करना हो जाता था लेकिन उसके आकार के बढ़ने के बाद यह संभव नहीं रहा नंदी के बढ़ते आकार से मंदिर के प्रशासन को मंदिर में स्थित एक खंबे को भी हटाना पड़ा।

2-अजंता एलोरा की गुफाएं गुफाएं तो भारत में बहुत है लेकिन वैज्ञानिकों का कहना है कि अजंता एलोरा की गुफाएं किसी एलियन के समूह ने बनाई हुई है और आज की तकनीकी का यूज करके भी हम ऐसी गुफाओं का निर्माण नहीं कर सकते ऐसा वैज्ञानिकों का मानना है आज भी लोगों का यह मानना है कि अजंता एलोरा की गुफाओं के नीचे एक सीक्रेट शहर बसा हुआ है।

3-रूपकुंड झील यह झील हिमालय पर लगभग 5029  मीटर की ऊंचाई पर मौजूद है इस झील को कंकाल झील के नाम से भी जाना जाता है यहां बहुत ही ज्यादा मात्रा में इंसान के कंकाल पाए गए हैं। शोध से पता चला है कि यह  850 ईसापूर्व यहां आए हुए श्रद्धालुओं और वहीं रहने वाले कुछ लोगों के हैं शोधकर्ताओं का मानना है कि इन लोगों की मौत किसी हथियार से नहीं बल्कि उनके सिर के पीछे लगी हुई चोट से हुई है

4- कोंगका दर्रा- कोंगका दर्रा ईस जगह को ऐसा माना जाता है कि यह अंतरिक्ष जियो का पृथ्वी पर एक घर है क्योंकि यहां पर कई बार यूएफओ के विमान को देखे जाने की बात सामने आई है अभी हाल ही में सन 2006 में गूगल ने अपने सेटेलाइट की इमेज में यह दिखाया कि यहां पर एक U.F O  जैसा कुछ दिखाई दिया गया वहां आस-पास रहने वाले लोग भी इस बात को मानते हैं कि यहां पर यूएफओ के समान कोई विमान कई बार दिखाई दिया गया है|

5- चुंबकीय पहाड़ी -यह पहाड़ी लद्दाख में मौजूद है| हर साल यहां लोग लाखों की तादाद में चुंबक की पहाड़ी को देखने जाते हैं क्योंकि यहां पर ऐसा माना जाता है और देखा गया है कि यह पहाड़ी धातु को अपनी ओर आकर्षित करती है इसका मतलब अगर आपने अपना वाहन    न्यूट्रल करके छोड़ दिया तो गाड़ी अपने आप पहाड़ की ओर पहाड़ पर चढ़ने लगती है !

6-हंपी  के 56 संगीतमय खंबे –

हंपी में भगवान विष्णु जी के अवतार भगवान विट्ठल जी का मंदिर स्थित है यहां मंदिर 56 संगीतमय खंबो से निर्मित है जो कि पुरातन काल के सिर्फ कला का एक जीता जागता नमूना है  अगर इन खंभों को हल्का सा टच किया जाए तो इन खंबों से अलग-अलग धोनी सुनाई देती है।

7- 

कमरूनाग झील -यह झील हिमाचल प्रदेश में मौजूद है जहां लाखों-करोड़ों नहीं बल्कि से कहीं गुना ज्यादा का सोना-चांदी मौजूद है इस झील  में लोग अपनी इच्छा को पूरी करने के लिए अपने शरीर से सोना या चांदी निकाल कर इस झील में डाल देते हैं जिससे लोगों का मानना है कि इस में सोना या चांदी डालने से उनकी इच्छा पूरी हो जाती है ऐसा भी मानना है कि इस खजाने को यहां से इस जिन से निकालना बहुत ही मुश्किल है हर साल श्रद्धालु उज्जैन में सोना या चांदी डालकर अपनी इच्छा पूरी करने के लिए उस झील के खजाने को पढ़ाते चले जा रहे हैं हर साल चीन का खजाना बढ़ता ही जा रहा है यह झील मंडी जिले से लगभग 60 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है और गर्मी के मौसम में तो इस झील में सोना चांदी के जेवर साफ नजर आते हैं चमचमाते हुए कोई भी इस खजाने को चुरा नहीं पाता है क्योंकि ऐसा माना जाता है कि कमरूनाग के खामोश पहरी इस खजाने की रक्षा करते हैं।

8-जुड़वा बच्चों का गांव केरल में यह  मल्लापुरम जिले में   कोडिन्ही नाम से एक गांव है इस गांव में जुड़वा बच्चों का पैदा होना आम बात है इस गांव में सालों से हमेशा जुड़वा बच्चे ही पैदा होते आए हैं अगर आप इस गांव में जाओगे तो आपको हर जगह जुड़वा बच्चे जुड़वा लोग ही दिखाई देंगे इस गांव में लगभग 2000 परिवार रहते हैं और आंकड़ों की माने तो इस गांव में लगभग 250 जुड़वा बच्चे हैं मतलब एक तिहाई हिस्सा हमसकल लोगों से भरा पड़ा है और हर साल यह संख्या बढ़ती ही जा रही है अब तो इस इलाके में तुड़वा मतलब 3 बच्चों का एक जैसी शक्ल का होना या जन्म लेना भी शुरू हो गया है।

9- प्रहलाद जानी जिन्होंने पिछले 70 साल से कुछ भी नहीं खाया है और आज भी स्वस्थ जीवन जी रहे है। यह माना जाता है कि जिन पर माता अंबा जी की कृपा हुई थी जिससे यह पिछले 70 साल से बिना कुछ खाए पिए ही जिंदा है वैसे तो यह राजस्थान के रहने वाले हैं इनके दावे की पूरी तरह जांच करने के लिए सन 2003 और 2010  में जांच      की गई और दोनों बार उनके दावे को सच पाया गया

10-  लेपाक्षी मंदिर इस मंदिर में मंदिर का एक खंबा हवा में लटका हुआ है यह मंदिर आंध्र प्रदेश में स्थित है मंदिर में कुल 70 खंभे हैं जिसमें से एक खंबा हवा में लटका हुआ है जैसा आप इमेज में देख सकते हो खंभे के नीचे से कपड़ा आर पार निकाला जा सकता है मतलब इसका कोई जमीन से कनेक्शन नहीं है इसके  आर्किटेक्चर को इस तरह से Banaya गया है कि खंबा हवा में लटका रहे।

इन सारे स्थानों के बारे में आप google,wikipedia पर भी विस्तार में पढ़ सकते हो।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *