samacharvideo:. उत्तरप्रदेश के साथ-साथ अन्य राज्यों में मिली करारी हार के बाद कांग्रेस का हर बड़ा नेता कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर ऊँगली उठा रहा है। इन सब के बावजूद राहुल गांधी सब कुछ भूल कर नयी रणनीति में लग गए है। 

यही नही राहुल गांधी से अब नेता सीधे सवाल जवाब भी कर रहे है। सूत्रों की माने तो उत्तरप्रदेश राज्य कांग्रेस कमिटी के एक बड़े नेता ने राहुल गांधी से कहा कि, ‘मोदी विरोध की माला जपते-जपते कांग्रेस ने मोदी को मुख्यमंत्री से प्रधानमंत्री बनवा दिया और 2014 से राहुल गांधी ने मोदी विरोध की माला जपने में और तेज़ी लाकर मोदी का कद इतना बढ़ा दिया कि, वो चुनाव दर चुनाव जीत रहे हैं. अपना संगठन दुरुस्त नहीं हो रहा, बदलाव अटका पड़ा है, ऐसे में सिर्फ मोदी विरोध करके कुछ नसीब नहीं होने वाला।’

इस तरह के सवाल अब सीधे तौर पर राहुल गांधी से किये जा रहे है। पर अब राहुल गांधी भी इन पर विचार कर रहे है, और रणनीति का विस्तार करते हुए मपड़ी लहार को रोकने के लिए मास्टर प्लान तैयार कर रहे है, जिसमे निम्न बातों को शामिल किया जाएगा…

  • हर बात पर मोदी विरोध बंद किया जाये, बल्कि पार्टी की भूमिका ऐसी हो, जिससे जनता में संदेश जाए कि कांग्रेस सकारात्मक विपक्ष के किरदार में हैं।
  • किसी एक धर्म की नहीं बल्कि सभी धर्मों की पार्टी नज़र आना कांग्रेस की मूल नीति रही है, वही छवि जनता के बीच रहनी चाहिए।
  •  जल्दी ही संगठन में बदलाव करके उसको दुरुस्त किया जाए और अपनी बात मज़बूती से नीचे तक पहुंचाई जाए।

    वहीँ जानकारी मिल रही है कि उत्तरप्रदेश में हुए गठबंधन के पक्ष में राहुल गांधी नही थे, उन पर पार्टी की तरफ से दबाव बनाया गया था, साथ ही राहुल गांधी में अकेले चुनाव लड़ने के पक्ष में भी थे।

    By admin

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *