samacharvideo: आपने मंदिरों के बारे में और वहां मिलने वाले प्रसाद के बारे में आजतक बहुत कुछ सूना होगा। सामान्य तौर पर मंदिरों में नारियल, मिठाईयां, लड्डू, मिश्री इत्यादि प्रसाद के रूप में मिलता है, पर आज हम आपको इंडिया के ऐसे मंदिरों के बारे में बताने जा रहे है, जहां प्रसाद तो मिलता है, पर प्रसाद के रूप में जो चीज़े मिलती है, उन्हें सुन आप हैरान रह जाएंगे…
1. महादेव मंदिर, थ्रिसुर- केरल में स्थित इस मंदिर में आने वाले सभी भक्तों को प्रसाद के रूप में बुक्स मिलती है, वही डीवीडी, ब्रोसेर्स भी दिए जाते है। ट्रस्ट मानता है कि, ज्ञान की चीज़ों से बढ़कर कोई प्रसाद नही होता है।


2. करणी माता मंदिर, बीकानेर-
आप अपने घरों में चूहों को अक्सर भगाते होंगे। उन्हें मारने के लाखों जातां भी करते होंगे। पर क्या आपने सोचा है कि, आपको प्रसाद के रूप में चूहों का जूठा खाना मिले, हां बीकानेर के इस मंदिर में आने वाले प्रसाद को सबसे पहले चूहे ही भोग लगाते है। यहाँ हजारों की संख्या में चूहे मौजूद है जो किसी को परेशान नही करते, साथ ही आने वाले प्रसाद को भोग लगाते है। भोग लगने के बाद ही भक्तों को प्रसाद बाटा जाता है।


3. जगन्नाथ मंदिर, पुरी-
जगन्नाथ रथ यात्रा को कौन नही जानता , यहाँ भगवान जगन्नाथ की सबसे बड़ी रथयात्रा निकलती है। पर क्या आप जानते है, पुरी के मंदिर में मिलने वाले प्रसाद के लिए भी पुरी को जाना जाता है। भगवन जगन्नाथ को 56 व्यंजनों का भोग लगाया जाता है, जिसे पूजा के बाद आप स्टालों से खरीद सकते है।


4. कामाख्या देवी मंदिर, गुवाहाटी-
हर वर्ष गुवाहाटी के कामाख्या देवी मंदिर में भव्य मेले का आयोजन किया जाता है। मेले के दौरान 3 दिन के लिए मां के दर्शन आम भक्तों के लिए बंद कर दिए जाते हैं और चौथे दिन जब मंदिर के द्वार खुलते हैं तो बहुत बड़ी संख्या में भक्तों का तांता मां के दर्शन के लिए लग जाता है। प्रसाद के रूप में प्रत्येक भक्त को एक गीला कपड़ा प्राप्त होता है। कहा जाता है की ये कपड़ा मां के रज से भीगा होता है।



5. बलसुब्रमनिया मंदिर, अलेप्पी-
केरल के अलेप्पी में बना हुआ है बालसुब्रमणिया मंदिर। बालामुरुगन भगवान को चॉकलेट बहुत प्रिय है। इसलिए यहां भगवान को प्रसाद के रूप में चॉकलेट ही अर्पित की जाती है और चॉकलेट का ही प्रसाद वितरित किया जाता है।


6. चाइनीज काली मंदिर, कोलकाता-
कलकत्ता के इस मंदिर में आने वाले भक्तों को प्रसाद के रूप में नारियल मिठाई नही, चाइनीज नूडल्स दिया जाता है।



7. धनदायुथपानी स्वामी मंदिर, पलानी-

तमिलनाडू के पलानी में अवस्थित भगवान मुरुगन के मंदिर में प्रसाद के रूप में पांच फल, गुड़ और शुगर कैंडी को मिलाकर “जैम” जैसी खाद्य सामग्री प्रसाद के रूप में दी जाती है।


8. अलागार मंदिर, मदुरै- कहा जाता है जैसा देश वैसा भेस तमिलनाडू के मदुरै में बने भगवान विष्णु के अलागार मंदिर में प्रसाद के रूप में डोसा मिलता है।



9. खबीस बाबा मंदिर, सीतापुर-
उत्तरप्रदेश के सीतापुर में स्थित खबीस बाबा मंदिर में शराब का प्रसाद अर्पित किया जाता है और प्रसाद के रूप में वही शराब भक्तों में वितरित कर दी जाती है।



10. अमाब्लापुझा, श्री कृष्ण मंदिर-
केरल के थिरुवंथपुरुम के समीप ही बने अमाब्लपुझा में भगवान कृष्ण के मंदिर में प्रसाद के तौर पर दूध, चीनी और चावल से निर्मित पायसम मिलता है।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *