samacharvideo: बाप बड़ा ना भैया सबसे बड़ा रुपैया यही बात राजनीति में भी लागू होती है कुछ दिनों पहले ही समाजवादी पार्टी में यह सब देखने को मिला था पर नया मसला कुछ हटकर है इस बार आगरा के विधानसभा क्षेत्र में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भारतीय जनता पार्टी आमने सामने खड़ी है।
 दरअसल उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव 2017 के लिए आगरा की फतेहाबाद सीट से भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार जितेंद्र वर्मा ने नामांकन दाखिल किया है तो वहीं राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के ब्रजकिशोर लावनिया ने भी अपना नामांकन दाखिल किया है। इस वजह से इस सीट पर rss और bjp आमने सामने आकर खड़ी हो गई है।
वही सूत्रों के मुताबिक संग से ताल्लुक रखने वाले ब्रज किशोर लावनिया भाजपा से नाराज हैं उनकी नाराजगी जितेंद्र वर्मा को टिकट देने से है आपको बता दें कि जितेंद्र वर्मा कुछ समय पहले ही समाजवादी पार्टी से भाजपा में शामिल हुए हैं । साथ ही में समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष के रह चुके हैं। लावनिया संघ के पदों पर भी कार्यरत रह चुके हैं वहीं भाजपा के करीबी भी है किंतु टिकट ना मिलने की वजह से अपनी नाराजगी व्यक्त कर रहे हैं और भाजपा के विरुद्ध मैदान में कूद चुके हैं।
लावनिया निर्दलीय चुनाव लड़ेंगे साथ ही  लावनिया ने साफ कर दिया है कि बीजेपी के खिलाफ नहीं बल्कि बीजेपी के नेतृत्व के खिलाफ है जिसने कार्यकर्ता को टिकट देने के बजाए बाहर के व्यक्ति को टिकट दिया है।
आपको बता दें कि लावनिया या कट्टर हिंदू विचारधारा के लिए जाने जाते हैं। उनका चुनावी नारा भी इस बात का गवाह है लावण्या का नारा”नहीं जात पात के नाम पर, वोट राम राज्‍य के नाम पर।”  गौरतलब है कि लावनिया के मैदान में आने bp को बड़ा झटका लग सकता है क्योंकि लावनिया के पक्ष में हिंदू वोटर के साथ-साथ संघ से जुड़े लोग भी हैं।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *